धोनी भारत के इतिहास के इकलौते ऐसे VVIP हैं, जो बॉर्डर पर ड्यूटी कर रहे हैं.. इसे कहते हैं देश प्रेम

mahendra singh dhoni in army uniform
ले. कर्नल महेंद्र सिंह धोनी की जितनी तरीफ की जाए उतनी ही कम है। आपको बता दें धोनी भारत के इतिहास के इकलौते ऐसे VVIP है, जो बॉर्डर पर ड्यूटी कर रहे हैं। भारतीय क्रिकेट टीम के विकेटकीपर-बल्लेबाज महेंद्र सिंह धोनी टेरिटोरियल आर्मी में मानद लेफ्टिनेंट कर्नल भी हैं और वो बुधवार को सेना के साथ जुड़ गए। महेंद्र सिंह धोनी को आ’तंक प्रभावित दक्षिण कश्मीर में ड्यूटी मिली है जहां वो अन्य सैनिकों की तरह गश्त, गार्ड ड्यूटी और अन्य काम करेंगे।


धोनी यहां पर 15 अगस्त तक 106 टीए बटालियन के साथ रहेंगे और सैनिकों की तरह काम करेंगे। आपको बता दें कि टेरिटोरियल आर्मी मुख्य सेना का ही अंग होता है और वो प्राकृतिक आपदाओं साथ ही अन्य जरुरी सेवाओँ को बनाए रखने में सेना की मदद करती है।
धोनी के बारे में सेना के अधिकारियों ने कहा कि वो यहां पहुंच चुके हैं और यूनिट के साथ जुड़ गए हैं। धोनी यहां पर विक्टर फोर्स के साथ जुड़े हैं जो कश्मीर में सबसे ज्यादा आ’तंक प्रभावित जिलों जैसे कि शोपियां और अनंतनाम में काम करती है। धोनी ने सेना के साथ काम करने की अनुमति मांगी थी जिसे सेना मुख्यालय ने मंजूरी दी थी। विक्टर फोर्स का मुख्य काम आ’तंक वि’रोधी ऑ’प’रेशन चलाना है। इस रेजीमेंट में सेना की बाकी सभी रेजिमेंट से जवान कश्मीर ड्यूटी के लिए शामिल किए जाते हैं।


आपको बता दें कि वर्ल्ड कप के बाद ये कयास लगाए जा रहे थे कि धोनी क्रिकेट को अलविदा कह देंगे, लेकिन उन्होंने इन बातों पर विराम लगा दिया था। धोनी ने बोर्ड से दो महीने का ब्रेक मांगा था ताकि वो पैराशूट रेजिमेंट को ये वक्त दे सकें। सेना के साथ जुड़ने के लिए धोनी ने वेस्टइंडीज टूर के लिए खुद को उपलब्ध नहीं बताया था।

Pallavi Mishra

A world traveller and a blogger/journalist who views the world wearing multi-coloured goggles. She believes that life is to live not to survive.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *